'ट्रैक्टरों पर सवार होकर दिल्ली जा रहे किसानों को नारसन बॉर्डर पर पुलिस ने रोका-जमकर हुई नोकझोंक और धक्का मुक्की.......''रुड़की में 28 जनवरी को होगा ज्योतिष महाकुंभ-विभिन्न प्रदेशों के 100 से अधिक ज्योतिष विद्वान करेंगे शिरकत......''भगवानपुर में हुई चोरी की घटना का खुलासा -40 लाख के सामान के साथ पांच आरोपी गिरफ्तार........''छापेमारी के दौरान ज्वाइन्ट मजिस्ट्रेट ने राशन की दुकान को किया सील-लम्बे समय से मिल रही थी शिकायत.......''कार और ट्रक की जबरदस्त भिड़ंत-कार के उड़े परखच्चे-चालक की मौत.....''आरोप लगाने वाले भाई है बेईमान-ढाई करोड़ की हुई हेराफेरी-चैंपियन ने सबूतों के साथ मीडिया के सामने रखा पक्ष.........'

वायरल ऑडियो पर झबरेड़ा विधायक ने जताया खेद-बोले सामने से उकसाया तो मुंह से निकले अपशब्द.........

dainik roorkee January 12, 2021

दैनिक रूड़की (योगराज पाल):: रूड़की। गाली गलौज देते वायरल हुई ऑडियो पर झबरेड़ा विधायक देशराज कर्णवाल ने खेद व्यक्त किया है। उन्होंने कहा कि मिल अधिकारी को फोन किया था उन्होंने मुझे पहचानने से इनकार किया और मुझे उकसाया तब मेरे मुख से अपशब्द निकल गए जिसके लिए खेद व्यक्त करता हूँ। इससे पहले सोमवार को विधायक ने ऑडियो में एडिटिंग होने की बात कही थी। रुड़की में अपने कैंप कार्यालय पर आयोजित पत्रकार वार्ता में झबरेड़ा विधायक देशराज कर्णवाल ने कहा विधानसभा के पिछले सत्र के दौरान नियम 53 के अंतर्गत सूचना लगाई थी ठीक बालपुर चीनी मिल द्वारा गन्ने का बकाया भुगतान किया जाए तभी मंत्री मदन कौशिक के निर्देश पर पिछले वर्ष का बकाया भुगतान मिल प्रबंधन द्वारा किया गया था लेकिन जब वे सत्र से वापस आए तो क्षेत्र के किसानों ने उन्हें बताया कि पिछले वर्ष का बकाया अभी तक उनके खातों में नहीं आया है।तब उन्होंने मिलकर मुख्य प्रबंधक को फोन किया लेकिन उन्होंने फोन नहीं उठाया तब किसानों द्वारा उनके पीएस को दूसरा नंबर दिया जिस पर संपर्क करने का प्रयास किया गया उस नंबर पर गुप्ता ने पहले तो फोन नहीं उठाया और जब उन्होंने उठाया अभी तो विधायक से बात करने से मना कर दिया। फिर लगभग आधे घंटे बाद फोन नहीं उठा तो परिचय देने के बाद भी गुप्ता ने उन्हें पहचानने से इंकार कर दिया। विधायक ने कहा कि गुप्ता के बार-बार ऐसा कहना और उकसाये जाने के कारण उनके मुंह से अपशब्द निकल गए थे। उन्होंने कहा कि वह पार्टी के समर्पित सिपाही हैं और किसानों की समस्या के लिए भी लगातार प्रयासरत हैं। उनका मकसद किसी को अपमानित करना नहीं बल्कि किसानों को न्याय दिलाना था। विधायक ने अपने द्वारा कहे शब्दों पर खेद जताया। विधायक ने कहा कि इस वार्ता के कुछ समय बाद मिल के मुख्य प्रवन्धक का फोन उनके पास आया था जिसमें उन्होंने बताया कि उनके जूनियर गुप्ता ने उनसे बात की जिसमें। गुप्ता से गलती हुई है। उन्होंने कहा कि वे किसानों की समस्या के लिए लगातार प्रयास रहता है और उनके प्रयास से ही शुगर मिल पर जो 450 रोड किसानों का बकाया था वह अब 150 करोड़ ही रह गया। इससे पहले सोमवार को विधायक ने मीडिया को जारी बयान में कहा था कि ऑडियो में एडिटिंग की गई है और गाली गलौज करते हुए आवाज उनकी नहीं है।

Share This