ब्रेकिंग न्यूज़::महिला से छेड़छाड़ और मारपीट मामले में मेयर गौरव गोयल और उनके भाई समेत 6 के खिलाफ मुकदमा दर्ज.......

dainik roorkee February 19, 2021

दैनिक रूड़की (दीपक अरोड़ा)::


रूड़की।
महिला से छेड़छाड़ और मारपीट के मामले में कोर्ट के आदेश पर मेयर गौरव गोयल उनके भाई समेत 6 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ है। पीड़ित की ओर से करीब एक माह पहले कोतवाली में तहरीर दी गयी थी लेकिन पुलिस ने बयान आदि दर्ज करने के बाद भी मामले में मुकदमा दर्ज नही किया था।

9 जनवरी को एक महिला ने
रुड़की गंगनहर कोतवाली पुलिस को दी गयी तहरीर में बताया था कि उसका पति मेयर गौरव गोयल के कार्यालय पर काम करता था। आरोप लगाया था कि मेयर ने उनका 15 महीने का वेतन नही दिया था जब वेतन के सम्बंध में उसके पति ने मेयर से बात की और कई लोगों से कहा तो मेयर ने उसके पति को अपने घर बुलाया जिस पर वह अपनी मां के साथ 22 दिसम्बर को मेयर के घर गया। आरोप लगाया था कि घर मे उंस समय मेयर गौरव गोयल उनका भाई राजीव गोयल और आलोक सैनी मौजूद थे। तीनों लोगों द्वारा उनके पति को घर पर बुलाकर गाली गलौज करते हुए बदनाम करने की बात कहते हुए लाठी-डंडों से मारपीट की जिससे कि मेरे पति की हड्डी भी टूट गई तभी गौरव गोयल ने मेरे पति को झूठे केस में फंसाकर जेल भिजवा दिया।
उसके बाद 25 दिसंबर को गौरव गोयल ने एक व्यक्ति को मेरे घर भेजा उस व्यक्ति ने मेरे घर पहुंचकर मुझसे कहा कि यदि आप अपने पति को जेल से छुड़वाना चाहती हो तो मेयर गौरव गोयल से उनके घर जाकर मिले तभी मैं अपनी सास के साथ उनके घर गई जिसके बाद उन्होंने मेरी सास को बाहर बैठने की बात कहते हुए मुझको अकेले में अंदर बुला कर मेरे साथ छेड़छाड़ व अश्लील हरकत करने की कोशिश की उसका मैंने विरोध किया और वहां से वापस अपने घर आगई जब मेरे पति जेल से छूटकर आए तबी मैंने अपने पति से ये बात कही तभी मेरे पति ने मुझको मेयर गौरव गोयल के द्वारा की गई इस हरकत की तहरीर पुलिस को देने की बात कही जिस के बाद पीड़ित महिला के द्वारा पुलिस को तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की गई थी।वहीं इसके अलावा 24 जनवरी को भी मेयर के साथियों द्वारा एसडी इंटर कॉलेज के समीप मारपीट का आरोप महिला ने लगाया था। मामले की शिकायत 29 जनवरी को एसएसपी हरिद्वार से भी की गई।। तहरीर देने के बाद मेयर ने भी समर्थकों के साथ कोतवाली घेरी थी और कर्मचारी और उसकी पत्नी द्वारा उन पर झूठे आरोप लगाकर तहरीर देने की बात कहते हुए कर्मचारी और उसकी पत्नी पर कार्रवाई की मांग की थी। उसके बाद पुलिस ने कर्मचारी की पत्नी पर दी गयी तहरीर के आधार पर मेयर के बयान भी दर्ज किए थे लेकिन एक माह से अधिक बीतने पर भी मामले में मुकदमा दर्ज नही हुआ तो कर्मचारी और उसकी पत्नी ने कोर्ट का दरवाजा खटखटाया। अब कोर्ट के आदेश पर 6 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। कर्मचारी की ओर से अधिवक्ता सलमान आसिफ ने बताया कि मेयर गौरव गोयल, उनके भाई राजीव गोयल, आलोक सैनी, मनोज कश्यप, सार्थक गोयल और अनुज सिंह के खिलाफ़ मुकदमा दर्ज किया गया है। वहीं कोतवाली प्रभारी मनोज मेनवाल ने भी मुकदमा दर्ज होने की पुष्टि की है।

Share This