सन्त रविदास मूर्ति मामले में महासभा और प्रशासन की बैठक-ज्वाइन्ट मजिस्ट्रेट ने कहा नियमानुसार प्रक्रिया को बढ़ाएं आगे........

dainik roorkee March 03, 2021

दैनिक रूड़की (योगराज पाल)::


रूड़की।
संत रविदास की मूर्ति हटाए जाने के मामले में आज संत शिरोमणि सतगुरु रविदास महासभा और प्रशासन के बीच वार्ता हुई वार्ता में ज्वाइन मजिस्ट्रेट ने महासभा के लोगों को कहा कि वह नियम अनुसार प्रक्रिया को अपनाएं और उसके बाद ही मूर्ति को उक्त स्थान पर स्थापित करें। महासभा की ओर से ज्वाइंट मजिस्ट्रेट को एक ज्ञापन भी सौंपा गया।


रुड़की गंगनहर घाट पर 1 मार्च की रात कुछ लोगों द्वारा संत रविदास की मूर्ति की स्थापना की गई थी जिसे प्रशासन की ओर से 2 मार्च की शाम हटा कर एक मंदिर में स्थापित कर दिया गया था वही मूर्ति हटाए जाने की सूचना पाकर दलित समाज के सैकड़ों लोग चंद्रशेखर चौक पर एकत्र हो गए और सड़क जाम कर धरना प्रदर्शन किया पुलिस प्रशासन से घंटो वार्ता के बाद प्रदर्शन कर रहे लोग वापस लौटे थे। उसके बाद आज वार्ता करने के लिए फिर से ज्वाइन्ट मजिस्ट्रेट कार्यालय पहुंचे। संत शिरोमणि के सतगुरु रविदास महासभा की ओर से प्रतिनिधिमंडल ने मांग की कि मूर्ति को उसी स्थान पर रखा जाए और घाट का नाम संत रविदास के नाम पर रखा जाए वही ज्वाइंट मजिस्ट्रेट नमामि बंसल ने कहा कि उन्हें मूर्ति रखे जाने से कोई एतराज नहीं है लेकिन महासभा नियमानुसार प्रक्रिया को अपनाएं और उक्त स्थान सिंचाई विभाग का है सिंचाई विभाग से अनुमति लेने के बाद ही मूर्ति की स्थापना उसी स्थान पर करें। उन्होंने प्रतिनिधिमंडल से कहा कि बिना अनुमति मूर्ति लगाए जाने का कोई औचित्य नहीं है उन्होंने कहा कि महासभा नियम अनुसार प्रक्रिया से चलेंगे तो प्रशासन भी उनका साथ देगा बाद में महासभा की ओर से ज्वाइंट मजिस्ट्रेट को एक ज्ञापन सौंपा गया। इस अवसर पर भारत कुमार ललित कुमार,अजीत जाटव,विनीत कुमार,चंद्रशेखर जाटव, महक सिंह, चारुचंद्र, योगेश कुमार,राजू कुमार, दीपक कुमार,धीरज पाल,सत्येंद्र प्रकाश, तेंलूराम कुशवाहा, घसीटू राम, कर्म सिंह बरमन, कुसुम बाला, सोमपाल, भोपाल सिंह, सोमपाल सिंह, रणवीर गौतम ,वीरेंद्र, अजय प्रधान, जगबीर सिंह आदि लोग मौजूद रहे।

Share This