6 साल पहले हुई शिकायत में पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष अंजुम पर आरोपों की पुष्टि-शासन ने दिए धन वसूली के आदेश.......

Dainik roorkee October 08, 2020

दैनिक रुड़की (योगराज पाल)::
रुड़की।पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष अंजुम के खिलाफ जांच रिपोर्ट में विभिन्न आरोपों की पुष्टि होने के उत्तराखंड शासन ने उनसे वसूली आदेश जारी किए हैं। उनके खिलाफ चल रही दस बिंदुओं की जांच में से चार में आरोपों की पुष्टि हुई है।


उत्तराखंड शासन ने प्रभारी सचिव हरीश चंद्र सेमवाल जारी पत्र के अनुसार पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष अंजुम के खिलाफ उनके कार्यकाल में जांच के संबंध में चौधरी राजेंद्र सिंह, राजकुमार एवं राजीव राठी की ओर से 11-06- 14 को की गई शिकायत के बाद विभिन्न 10 विंदुओं पर जांच जिलाधिकारी हरिद्वार को 17-06-14 को सौंप दी गयी जिसमें 21-01-15 को आई जांच रिपोर्ट में 10 में से 5 बिंदु में पुष्टि हुई तथा शेष अन्य बिंदुओं पर तकनीकी जांच करवाए जाने की संतुष्टि की गई। इसके बाद 15-09-15 उत्तर प्रदेश पुलिस द्वारा बरेली के निकट जिला पंचायत हरिद्वार के सरकारी वाहन से एक करोड़ के नकदी प्राप्त की गई। जिसमें जिला पंचायत अध्यक्ष पति और सुरक्षाकर्मी को अभिरक्षा में लिया गया था। उक्त सरकारी वाहन में नकदी पकड़े जाने के बाद मुख्यमंत्री के अनुमोदन के बाद तत्कालीन अध्यक्ष अंजुम के वित्त एवं प्रशासनिक अधिकारों पर रोक लगाते हुए गढ़वाल मंडल आयुक्त को जांच के लिए नामित किया गया था। प्रकरण पर जांच अधिकारी गढ़वाल मंडल आयुक्त ने 2-09-16 को तथा 16-03-17 दी गई अंतिम जांच रिपोर्ट में शेष 5 बिंदुओं में से 4 बिंदु में आरोपों की पुष्टि हुई और जिसमें तीन लाख दस हजार 666 रुपए शासकीय धन की क्षति मानी गई। प्रभारी सचिव हरीश चंद्र सेमवाल ने जिलाधिकारी हरिद्वार को निर्देशित किया है कि उक्त मामले में तत्कालीन अध्यक्ष अंजुम से नियम अनुसार वसूली की जाए और कृत कार्रवाई की सूचना प्रशासन को अवगत करवाया जाए।।

Share This