महिर्षि दयानन्द आईटीआई कॉलेज के छात्रों ने लगाया मनमर्जी तरीके से फीस वसूलने का आरोप-शिक्षा मंत्री को भेजा पत्र.......

Dainik roorkee October 09, 2020

दैनिक रुड़की (कृष्णपुरी गोस्वामी)::
धनौरी।आईटीआई कर रहे छात्रों ने कालेज के प्रबंधतंत्र पर मनमर्जी तरीके से फीस वसूलने का आरोप लगाया।तथा इस बावत उत्तराखंड के शिक्षा मंत्री को पत्र प्रेषित कर मामले में कार्रवाई करने की मांग की।कालेज के प्रबंधतंत्र ने ऐसे किसी भी आरोपो को सिरे से खारिज करते हुए सभी आरोपो को निराधार बताया।
महर्षि दयानंद निजी आईटीआई धनौरी के छात्रों ने उत्तराखंड के शिक्षा मंत्री को भेजे पत्र में बताया कि वह कालेज में 2018-2020 के फिटर वेल्डर व इलेक्ट्रिशियन के छात्र हैं।उन्होंने कालेज में छात्रवृत्ति के आधार पर कालेज में प्रवेश लिया था। कालेज के प्रबंधतंत्र ने दो साल के लिए दस व पांच हजार रुपये मय छात्रवृत्ति के आधार पर कालेज में छात्रों को प्रवेश दिया था।अब कालेज का प्रबंधतंत्र अपनी बात से मुकर गया हैं।अब कालेज का प्रबंधतंत्र चालीस हजार रुपये फीस देने का दबाव बनाकर धमकी दे रहा हैं कि अगर फीस नही दी गई तो अर्ध परीक्षा के सत्र अंक तथा प्रयोगात्मक परीक्षा में फैल कर दिए जाओगे।छात्रों ने इस पूरे प्रकरण में उत्तराखंड के शिक्षा मंत्री से करवाई किए जाने की मांग की हैं।इस बावत महर्षि दयानंद निजी आईटीआई के प्रबंध निदेशक अश्वनी कुमार सैनी ने बताया कि छात्रों के सभी आरोप बेबुनियाद हैं।सरकार की ओर से छात्रवृत्ति बन्द हैं कालेज में किसी भी छात्र को छात्रवृत्ति के आधार पर प्रवेश नही दिया है कालेज अपनी फीस की मांग कर रहा हैं।छात्र छात्रवृत्ति की बात कहकर कालेज की वार्षिक फीस नही देना चाहते हैं।आरोप लगाने वाले छात्रों को दीपक, शालू, विपिन कुमार,अमरदीप सिंह, राहुल कुमार, मिथुन कुमार,विकास कुमार, अरुण, निवेश कुमार, अक्षय कुमार अनुज कुमार आदि शामिल रहे।

Share This