'सोशल डिस्टेंसिग का उलंघन करने वाले और मास्क न लगाने वाले 200 लोगों के काटे चालान-न माने तो होंगे मुकदमें दर्ज.......''ऐसे ही नही अरविंद सिंह की झबरेड़ा से दावेदारी-विरासत में मिली है सीख कि कैसे होता है क्षेत्र का विकास.......''आज दिन मंगलवार 20 अक्टूबर क्या कहते हैं आपकी किस्मत के सितारे जानिए राशिफल...''नवरात्रि का चौथा दिन माँ कुष्मांडा का-संकटों से मुक्ति दिलाती है माँ-ऐसे करें पूजा......''मेला प्रभारी और थानाध्यक्ष की सूझबूझ से सम्पन्न हुआ उर्स का पहला पड़ाव-स्थानीय लोगों ने जताया आभार......''रुकी नहर में पानी जमा होने पर विधायक ने सिंचाई विभाग अधिकारी से की बात-पानी निकासी और सफाई के दिये निर्देश.......'

251 रुपए में एंडरायड फोन का झांसा देकर ठगे थे लाखों-साढ़े तीन साल बाद गिरफ्तार हुआ आरोपी........

Dainik roorkee October 10, 2020

दैनिक रुड़की (राहुल सक्सेना)::
रुड़की। पिछले 3 साल से फरार चल रहा है धोखाधड़ी के आरोपी को सिविल लाइंस कोतवाली पुलिस ने गिरफ्तार किया है।


रुड़की सिविल लाइंस कोतवाली में घटना का खुलासा करते हुए सीओ रुड़की चंदन सिंह बिष्ट ने बताया कि 20-5-2017 को बादी अशोक कुमार पुत्र ओमप्रकाश निवासी भूटानी मै. हार्दिक टेलीकॉम द्वारा सूचना दी गई थी कि रिंगिंग बेल्स प्राइवेट लिमिटेड इंदिरापुरम गाजियाबाद के प्रबंध निदेशक मोहित गोयल पुत्र राजेश गोयल जनरल मैनेजर अनमोल गोयल पुत्र सुनील कुमार द्वारा अपनी कंपनी से उत्पादित स्मार्टफोन 251रुपए में देने का वायदा किया था और बताया गया था कि उत्पादित फोन प्रधानमंत्री के डिजिटल इंडिया का हिस्सा है। भाटी अशोक कुमार ने इस फोन का ऑर्डर दे दिया जिसके एवज में वादी ने कुछ चेक और नकदी के माध्यम से 3,21, 900 रुपए संबंधित कंपनी केस टॉकीज बांके बिहारी कम्युनिकेशन को दिए जिसकी एवज में कंपनी द्वारा एक बार 67470 रुपए तथा दूसरी बार 16786 रुपए का माल भेजा जो माल कंपनी द्वारा भेजा गया वह दूसरा माल था इस बारे में जब कंपनी को बोला गया तो उन्होंने धमकी देते हुए माल बदलने से इनकार कर दिया। पुलिस ने पीड़ित की तहरीर पर उस समय मुकदमा 4 लोगों के खिलाफ दर्ज किया था और जिसमें मोहित गोयल पुत्र राजेश गोयल एवं धारणा गोयल पत्नी सुनील कुमार ने उच्च न्यायालय से गिरफ्तारी पर स्टे ले लिया था। जबकि अनमोल गोयल पुत्र सुनील कुमार गोयल और अशोक कुमार चड्ढा पुत्र विशम्भर सहाय को गिरफ्तार किया था। चारों के खिलाफ चार्जशीट 2018-19 में दाखिल की थी इसके साथ ही अभियुक्त प्रवीण गोयल की मृत्यु हो गयी थी और समीर बजाज लगातार फरार चल रहा था। साढे तीन साल से पुलिस आरोपी की तलाश में जुटी थी और उसके ऊपर 1500 रुपए का इनाम घोषित किया था। पुलिस टीम द्वारा 9 अक्टूबर को अपराधी समीर बजाज को हिम्मतनगर लुधियाना पंजाब से गिरफ्तार किया है। आरोपी को पकड़ने वाली टीम में उप निरीक्षक अंकुर शर्मा कॉन्स्टेबल रामवीर और हुकुम सिंह शामिल रहे।

Share This