बैंक में फोन नम्बर अपडेट कर खाते से निकाल लिए दस लाख-गंगनहर पुलिस ने किया प्रयास और पीड़ित के चेहरे पर फिर आई खुशी.....

dainik roorkee April 06, 2021

दैनिक रुड़की :(दीपक अरोड़ा)

रुड़की
, गंगनहर कोतवाली पुलिस द्वारा कृष्णा नगर के रहने वाले एक व्यक्ति के खाते से निकाली गई दस लाख रुपए की रकम को वापस दिलवाया है। पुलिस की इस कार्रवाई की प्रशंसा करते हुए व्यक्ति द्वारा गंगनहर कोतवाली पुलिस का आभार व्यक्त किया गया है।

गंगनहर कोतवाली प्रभारी निरीक्षक मनोज मेनवाल ने बताया कि वीर सिंह पुत्र राम प्रसाद कृष्णा नगर ने पुलिस को दी गई तहरीर में बताया कि बीटी गंज स्थित एसबीआई में मासिक वेतन आता है। सिंचाई विभाग में कार्यरत है वीर सिंह द्वारा अपने खाते में दस लाख की एफडी 1 वर्ष के लिए करवाई थी। जिसमें नॉमिनी पर वीर सिंह व उनकी पत्नी कविता चौहान का नाम दर्ज था।
वीर सिंह बैंक में चालीस हजार रुपये की रकम अपने खाते से निकालने गया तो बैंक से पता चला उसके खाते में 37 हजार रुपये लगभग की रकम शेष हैं बैंक के द्वारा चेक को कैंसिल कर देने के उपरांत वीर सिंह द्वारा अपनी पासबुक की एंट्री बैंक में कराने पर पता लगा कि किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा ठगी कर धनराशि दस लाख दस हजार 625 रुपये खाते से निकाल दिए हैं।
इस संबंध में पुलिस द्वारा मुकदमा दर्ज किया गया जिसकी विवेचना उपनिरीक्षक प्रेम प्रकाश द्वारा की गई जांच में सामने आया कि ठग द्वारा बैंक खाता में वीरसिंह के अंकित मोबाइल नंबर के स्थान पर अपना मोबाइल अपडेट कराकर उसकी एफडी तुड़वाकर 10 लाख रुपये निकाल लिये गए। वादी द्वारा अपने बैंक को और बैंक अधिकारियों से वार्ता और उचित सहयोग न मिलने पर गंगनहर पुलिस को तहरीर दी गयी
कोतवाली प्रभारी निरीक्षक मनोज मेनवाल व उपनिरीक्षक प्रेम प्रकाश के बैंक से संपर्क कर बैंक द्वारा इस प्रकरण की आंतरिक जांच कराई गई तो बैंक द्वारा जांच में पाया कि वादी के साथ बैंक फ्रॉड हुआ है। वीर सिंह की निकाली गई संपूर्ण धनराशि दस लाख दस हजार छः सो रुपये वादी वीर सिंह उपरोक्त खाते में वापस जाने की सूचना स्वयं वादी द्वारा गंगनहर कोतवाली आकर दी गयी। पीड़ित व्यक्ति के परिजनों,सगे संबंधियों,अधिकारियों तथा परिचितों के द्वारा गंगनहर पुलिस पुलिस के प्रयासों की सराहना करते हुए जनपद हरिद्वार पुलिस के इस कार्य की भूरी भूरी प्रशंसा की गयी है।

Share This