राजकीय सिंचाई उधोगशाला के सेवानिवृत्त 6 कर्मचारियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज-कर्मचारियों ने भी अधिकारियों पर लगाये गम्भीर आरोप....

dainik roorkee April 07, 2021

दैनिक रूड़की (दीपक अरोड़ा)::

रूडकी।
राजकीय सिंचाई उधोगशाला आधा दर्जन सेवानिवृत्त कर्मचारियों के खिलाफ सिविल लाइन कोतवाली पुलिस ने केस दर्ज किया है केस दर्ज होने के बाद कर्मचारियों में दिन भर हड़कंप मचा रहा। वहीं सिविल लाइंस कोतवाली में भी रिटायर्ड कर्मचारियों की भीड़ लगी रही।


रूड़की राजकीय सिंचाई उधोगशाला के सेवानिवृत्त कर्मचारियो ने अपनी मंगों को लेकर मंगलवार को अधिशासी अभियंता का घेराव किया था वहीं अब अधिशासी अभियंता ने उक्त रिटायर्ड कर्मचारियों पर सरकारी कार्य मे बाधा डालने ,महिला कर्मचारियों के साथ मारपीट, गालीगलौच और पेंशन संबंधी पत्रावलियों को भारी नुकसान पहुंचाने के आरोप लगाते हुए सिविल लाइंस कोतवाली में मुकदमा दर्ज करवाया है पुलिस ने तहरीर के आधार पर सेवानिवृत्त कर्मचारी अरविंद राजपूत, जनेश्वर प्रसाद, सुमन कुमार, कीर्तन पाल,सतीश शर्मा, और ब्रह्म सिंह के खिलाफ गंभीर धाराओं में केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। वहीं मुकदमा दर्ज होने के बाद दर्जनों की संख्या में रिटायर्ड कर्मचारी सिविल लाइंस कोतवाली पहुंचे। सेवानिवृत्त कर्मचारियों ने भी कार्यशाला के तीन अधिकारीयो के खिलाफ अभद्र व्यवहार और पेंशन के कार्य की एवज में 40 हज़ार रुपये रिश्वत मांगने के गंभीर आरोप लगाएं है और तहरीर भी दी है। कर्मचारियों का कहना है कि उत्तराखंड सरकार द्वारा भी आठ माह पूर्व सभी कर्मचारियों को पेंशन देने की घोषणा की गई थी लेकिन इसी बीच वो सभी कर्मचारी कार्यशाला के अधिशासी अभियंता, प्रशासनिक अधिकारी राजीव जौहरी और कर्मचारी संजय कश्यप से मिलने के लिए पहुंचे तो उन्होंने पेंशन की एवज में चालीस हजार की रिश्वत मांगी।
जिसे कर्मचारी देने में असमर्थ थे जब उन्होंने इसका विरोध किया तो तीनों लोगों ने उन्हें गालियां और अभद्र व्यवहार किया।
फिलहाल सिविल लाइन कोतवाली पुलिस ने सेवानिव्रत कर्मचारियों की तहरीर के आधार पर भी जांच तेज़ कर दी है वहीं इस बाबत सिविल लाइन कोतवाली प्रभारी राजेश शाह का कहना है कि कार्यशाला के दोनों पक्षों की ओर से उन्हें तहरीर प्राप्त हुई है जिसकी जांच की जा रही है एक पक्ष की ओर से केस दर्ज भी हो चुका है।

Share This