कलियर उर्स::बरेली शरीफ से झंडा लेकर कलियर पहुंचा जत्था-कोरोना काल में बदला रूप.......

Dainik roorkee October 17, 2020

दैनिक रूड़की (इकराम अली)::
पिरान कलियर।
दरगाह हज़रत मखदूम अलाउद्दीन अली अहमद साबिर पाक के सालाना उर्स को लेकर प्रत्येक वर्ष झंडा कुसाई की रस्म को अंजाम दिया जाता है, उक्त झंडे को बरेली शरीफ़ से एक पैदल जत्था पिरान कलियर लेकर पहुँचता है लेकिन इस बार कोविड-19 के चलते मात्र 11 अकीदतमंदों का जत्था अपने वाहनों से झंडा लेकर पिरान कलियर पहुँचा जहां दरगाह नायब सज्जादा नशीन अली शाह मियां समेत अन्य सूफियों ने जत्थे के स्वागत किया।

जानकारी के दरगाह हज़रत साबिर पाक के सालाना उर्स का आगाज झंडा कुसाई (फहराना) के साथ होती है, प्रत्येक वर्ष सैकड़ो लोग एक जत्थे के रूप में बरेली शरीफ से पैदल झंडा लेकर आते है, लेकिन इस बार कोरोना महामारी के चलते मात्र 11 लोगो का जत्था बरेली शरीफ से कलियर पहुँचा जहां सूफियों के साथ दरगाह नायब सज्जादा नशीन शाह अली एजाज़ साबरी ने जत्थे का फूल मालाओं से स्वागत किया, इसके बाद अकीदतमंद दरगाह साबिर पाक के मुख्य द्वार पहुँचे।नायब सज्जादा नशीन शाह अली एजाज़ साबरी ने बताया प्रत्येक वर्ष बरेली शरीफ से झंडा लेकर अकीदतमंदों का जत्था पिरान कलियर आता है जिसके बाद दरगाह के मुख्य द्वार पर झंड़ा कुसाई (फहराना) की रस्म को अदा किया जाता है और उर्स का आगाज हो जाता है। इस बार कोविड-19 के चलते बरेली शरीफ से 11 लोगो को जत्था अपने वाहनों से झंडा लेकर पिरान कलियर पहुँचा है, बाद नमाज असर झंडा कुसाई की रस्म को अंजाम दिया जाएगा। वही जत्थे के प्रवक्ता कमाल साबरी ने बताया कि इस बार 11 लोगो का जत्था झंडा लेकर आया है, वह पिछले 30 सालों से झंडा लेकर पिरान कलियर आरहे है, कोविड-19 के मद्देनजर सरकार की गाइडलाइन के अनुसार ही झंडा लेकर आए है।इस दौरान शाह यावर अली साबरी ,जत्था लीडर सूफी वसीम मियां साबरी ,हसन साबरी, अजीज अहमद साबरी ,सादिक साबरी ,नईम साबरी ,अतीक साबरी,इमरान साबरी,शाह गाज़ी ,शाह राजी,सूफी राशिद साबरी,सूफी इसरार साबरी आदि मौजूद रहे।

Share This