ऐसे ही नही अरविंद सिंह की झबरेड़ा से दावेदारी-विरासत में मिली है सीख कि कैसे होता है क्षेत्र का विकास.......

Dainik roorkee October 20, 2020

दैनिक रूड़की (योगराज पाल)::
रूड़की।
झबरेड़ा विधानसभा सीट से ताल ठोक रहे अरविंद सिंह नाग्यान
की दावेदारी खाँमखा ही नही है। हमने उनके अतीत में जाने के प्रयास किया तो मालूम हुआ कि राजनीति उन्हें विरासत में मिली है वो भी ऐसे पिता से जिन्होंने उत्तरप्रदेश जैसे बड़े सूबे के मुख्यमंत्री को अपना हैलीकॉप्टर छोटे से गांव सुनहरा में उतरने को मजबूर कर दिया था।


अरविंद सिंह नाग्यान जिन्होंने झबरेड़ा विधानसभा सीट से चुनाव लड़ने के लिए अपनी दावेदारी ठोकी है झबरेड़ा में लगभग हर समाज में अपनी पैठ रखने वाले अरविंद को लोग केवल पूर्व प्रधान के पति के रूप में जानते हैं या फिर कांग्रेसी नेता के रूप में लेकिन इतना सब होना तो आम है। लेकिन दैनिक रुड़की ने जब उनसे इस मामले में विस्तार से बात की तो पता लगा कि राजनीति में वह नये नही है अपने पिता के पदचिन्हों पर चलते हुए उन्होंने एनएसयूआई से लेकर कांग्रेस पार्टी में एक सच्चे कार्यकर्ता के रूप में काम किया है। उन्होंने बताया कि मेरे पिता बलदेव सिंह सन 1975 से 1990 तक प्रधान रहे उस समय शफीपुर और सुनहरा एक ही ग्राम पंचायत हुआ करती थी। 1975 में जब पिता प्रधान बने तो गांव में कई कच्चे मकान और लोगों पर भरण पोषण की समस्या थी सो उन्होंने ठानी के निर्धन लोगों के लिए कुछ ऐसा करें कि वह याद करें। उन्होंने तत्कालीन मुख्यमंत्री स्वर्गीय हेमवती नंदन बहुगुणा से सम्पर्क साधा हालांकि एक ग्राम प्रधान के लिए उत्तरप्रदेश जैसे सूबे में मुख्यमंत्री तक पहुंचना बड़ी बात थी लेकिन वह पहुँचे भी और अपने काम में सफल भी हुए। नतीजा निकला की एक सरकारी योजना के तहत करीब 150 परिवारों को पक्के मकान, 500 रुपए की नकदी और एक एक भैंस भरण पोषण के लिए दी गयी। इतना ही नही इसके लिए स्वयं मुख्यमंत्री आये थे और उनका हेलीकॉप्टर सुनहरा में ही लैंड हुआ था। अरविंद बताते हैं वह उस समय काफी छोटे थे लेकिन तब से मन बना लिया था कि समाज की सेवा पिता की तरह उनके पदचिन्हों पर चलकर करूँगा। उन्होंने कहा कि उनकी आजतक की राजनीति बेदाग रही है और वह अपने लिए नही बल्कि समाज के उन लोगों के लिए राजनीति में आगे बढ़ना चाहतें है जिन्हें आज तक जीवन में जनप्रतिनिधियों के आश्वासन के अलावा कुछ भी हांसिल नही हुआ। उन्होंने बताया कि वह कांग्रेस के सच्चे सेवक है न आज तक दल बदला है और न ही बदलेंगे। कहा कि टिकट मिलता है तो जीत हाँसिल करने के साथ क्षेत्र में विकास की मिशाल कायम करेंगे।

Share This