कांग्रेस नेत्री को कोठी एलाट करने की सूचना पर भाजपाई हुए नाराज-अधिकारी के पास पहुंचे तो भी नही मिला जबाब-अब मुख्यमंत्री के पास जाएंगे.......

dainik roorke August 03, 2021

दैनिक रुड़की (योगराज पाल)::


रुड़की।
कांग्रेस नेत्री को कोठी अलॉट किये जाने की जानकारी लेने पहुंचे भाजपा कार्यकर्ताओं को अधिकारी ने पूरी तरह नजरअंदाज कर दिया। भाजपा नेता अपनी किरकिरी करवाके वापस लौट आये और अब मामले को मुख्यमंत्री तक ले जाने की बात कह रहे हैं।

जानकारी के अनुसार भाजपा नेताओं को सूचना मिली थी कि रुड़की में कांवड़ पटरी पर सिंचाई विभाग की एक कोठी कांग्रेस की एक नेत्री को अलॉट कर दी है यह जानकारी मिलने के बाद भाजपा रुड़की पूर्वी मंडल अध्यक्ष अभिषेक चंद्रा, पश्चिमी मंडल अध्यक्ष प्रवीण सिंधु, भाजयुमो प्रदेश मंत्री सागर ग़ोयल एवं अन्य पदाधिकारी सिंचाई विभाग के एक उच्च अधिकारी के कार्यालय पहुंच गए। वाकायदा कार्यालय में बैठकर सभी पदाधिकारियों का भाजपा नेता सागर ग़ोयल ने परिचय करवाया और अपनी बात करनी शुरू की। लेकिन अधिकारी सभी भाजपा नेताओं को इगनोर करते हुए कम्प्यूटर पर कोई काम करने में लगे रहे। काफी देर तक भाजपा पदाधिकारी बोलते रहे लेकिन अधिकारी ने आवाज तक मुंह से नही निकाली इस दौरान भाजपा कार्यकर्ताओं ने अपने आपको सत्ताधारी दल से होने की बात कही और अधिकारी को उनकी जिम्मेदारी याद दिलाई उन्हें बताया कि जबाबदेही की जिम्मेदारी आपकी है लेकिन फिर भी अधिकारी नही बोले। इसके साथ ही भाजपा कार्यकर्ताओं ने यह तक कहा कि क्या उन्हें हंगामा करना पड़ेगा लेकिन अधिकारी किसी कीमत पर टस से मस होने को तैयार नही थे। जब करीब आधे घण्टे तक भी भाजपाइयों ने अधिकारी के जवाब न देने पर इसकी शिकायत विभागीय कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज के कार्यालय पर की मंत्री के कार्यालय से अधीक्षण अभियंता के पास फोन आने पर अधिकारी ने बताया कि उनके द्वारा किसी भी कोठी को किसी भी नेत्री को नहीं दिया गया है। और इस बारे में ज्यादा जानकारी उनके विभाग के जेई व एई दे पाएंगे। भाजपा मंडल अध्यक्ष अभिषेक चंद्रा व भाजपा युवा मोर्चा के प्रदेश महामंत्री सागर गोयल का कहना है कि वह अधीक्षण अभियंता के इस तरह के व्यवहार को लेकर प्रदेश के मुख्यमंत्री से मिलेंगे। प्रतिनिधिमंडल में भाजपा मंडल अध्यक्ष प्रवीण सन्धु, मंडल उपाध्यक्ष आदर्श गुप्ता, राजन ग़ोयल, भाजयुमो मण्डल अध्यक्ष हर्षित गर्ग, विनीत आदि शामिल रहे।

Share This