प्रबंधक पद पर महिला की नियुक्ति पर अंजुमन गुलामने मुस्तफा सोसाइटी ने उठाए सवाल-विरोध करते हुए कहा यह नियुक्ति दरबार की परंपराओं के खिलाफ........

Dainik roorkee November 23, 2022

दैनिक रुड़की (इकराम अली)::






पिरान कलियर।
सोशल मीडिया पर दरगाह प्रबंधक पद पर भाजपा समर्थित नेता की पत्नी शिक्षिका की ताजपोशी होने की चर्चाओं पर अंजुमन गुलामने मुस्तफा सोसाइटी ने प्रेस नोट जारी कर प्रबंधक नियुक्त होने पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने आस्था का हवाला देकर वक़्फ़ बोर्ड सीईओ और मुख्यमंत्री से दरगाह प्रबंधक पद पर पुनः विचार करने की मांग की है।



बुधवार को अंजुमन गुलामने मुस्तफा सोसाइटी सचिव शादाब कुरैशी ने एक प्रेस नोट जारी कर कहा कि दरगाह साबिर पाक आस्था का केंद्र है जहां सभी धर्मों के लोग अपनी मन्नत मुरादे लेकर आते हैं।उन्होंने कहा दरगाह प्रबंधक का पद एक महत्वपूर्ण पद है जिस पर प्रबंधक के साथ-साथ लोगों की आस्थाओं को दरगाह की परंपराओं के अनुसार निर्वहन करने की जिम्मेदारी भी होती है। जिसमें दरगाह साबिर पाक रहमतुल्ला अलेह की रात की खिदमत की जिम्मेदारी भी होती है।जिसमे महिलाओं का प्रवेश वर्जित है। इसके अलावा अन्य रस्मे ओर परंपराओं में भी महिलाओं को प्रवेश करने की अनुमति नही है।ऐसे में दरगाह प्रबंधक पद महिला को नियुक्त करना उचित नही है और दरबार की परमपराओं के विपरीत है। अंजुमन गुलामने मुस्तफा सोसाइटी ने मुख्य कार्यपालक उत्तराखंड और मुख्यमंत्री से विचार करने की मांग की है।उन्होंने कहा है कि दरगाह प्रबंधक पद का कार्य प्रसाशनिक न होकर एक महत्वपूर्ण धार्मिक मामला भी है।जिसका अंजुमन गुलामने मुस्तफा सोसायटी विरोधी करती है।एएसडीएम विजयनाथ शुक्ला ने बताया कि अभी लिखित में कोई आदेश नही मिले हैं। और किसी भी महिला को नियुक्त नही किया गया है।

Share This